ऑलम्पिक खेल संघ के पूर्व अध्यक्ष के खिलाप गबन की शिकायत दर्ज

Advertisement

चमोली : जिले के खेल प्रेमियों ने गोपेश्वर में उत्तरांचल ऑलम्पिक संघ के पूर्व अध्यक्ष राजीव मेहता व उनकी पत्नी दीपा मेहता के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई है। मामले में दंपति पर वर्ष 2004 में आयोजित ऑलम्पिक खेलों के लिये अवमुक्त अनुदान के गबन का आरोप लगाया है।

अधिवक्ता हेम पुजारी ने बताया कि वर्ष 2004 में  संघ को फरवरी माह में राज्य के विभिन्न स्थानों पर खेलों के  आयोजन के लिये सरकार की ओर से 15 लाख का अनुदान दिया गया था। लेकिन तत्कालीन संघ के अध्यक्ष राजीव मेहता ने अनुदान की राशि में से 6 लाख स्वयं तथा 5 लाख की धनराशि अपनी पत्नी के खातों में स्थानंतरित करवाई है। वहीं मामले को लेकर पूर्व में की गई शिकायत पर राज्य के अपर निदेशक खेल की जांच में आरोपों के प्रथम दृष्टा सिद्ध होने की बात सामने आई है। साथ ही जांच में संघ की ओर से प्रतियोगिताओं में शामिल खिलाड़ियों की दी गई सूची को लेकर चमोली, बागेश्वर, पिथौरागढ व टिहरी के जिलाधिकारी व क्रीड़ा अधिकारी ने खिलाड़ीयों की गलत सूची होने की पुष्टि की है। जांच अधिकारी की ओर से आख्या शासन को भेजकर मामले की विस्तृत जांच की भी संस्तुति की गई। लेकिन मामला वर्तमान तक ठंडे बस्ते में पड़ा हुआ है। उन्होंने कहा ऑलम्पिक खेल संघ ने इस प्रकार की गतिविधियों से जहां सरकारी धन का दुरुपयोग किया गया है। वहीं राज्य के प्रतिभाशाली युवाओं का हक छीनने का काम किया है। जिसे देखते हुए मामले में शिकायत दर्ज कर कार्रवाई की मांग की गई है।

इधर, थानाध्यक्ष राजेंद्र रौतेला ने कहा कि शिकायती पत्र के आधार पर मामले की जांच की जा रही है। जांच के बाद अग्रिम कार्रवाई की जाएगी। इस मौके पर बाॅलीवाल संघ के अध्यक्ष अशोक रावत, ताइक्वांडो संघ के अध्यक्ष अनूप पुरोहित, हेमंत दरमोड़ा आदि मौजूद थे।

सोशल ग्रुप्स में समाचार प्राप्त करने के लिए निम्न समूहों को ज्वाइन करे.