देहरादून: तीन महीने से लापता केदार भंडारी के मां-बाप को नहीं मिला न्याय, अब उठाया यह कदम

Advertisement

देहरादून: अग्निवीर परीक्षा में गए केदार भंडारी के गुमशुदगी मामले की जांच दोबारा शुरू करने की मांग की जा रही है. अपने बेटे के तीन महीने से कोई खबर नहीं मिलने के बाद केदार भंडारी के माता-पिता को अब कांग्रेस नेताओं का समर्थन मिल गया है. विपक्षी पार्टी का साथ मिलने के बाद अब केदार के माता-पिता धरना प्रदर्शन पर बैठ गए हैं. इसके साथ ही उन्होंने मांग की है कि अभी तक क्या जांच हुई है इसको पुलिस द्वारा सार्वजनिक किया जाए.

परिजनों की माँग

दरअसल अग्निवीर भर्ती परीक्षा में भाग लेने के गया केदार भंडारी तीन महीने से लापता है. इस वजह से केदार भंडारी के माता-पिता ने आज गांधी पार्क में गांधी प्रतिमा के सामने बैठ कर धरना प्रदर्शन किया. इस दौरान उन्हें कांग्रेस के कई नेताओं का भी समर्थन मिला.

आखिर कौन था केदार भंडारी

केदार भंडारी उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले में रहने वाला एक युवक था. अपने घर से अग्निवीर भर्ती में शामिल होने केदार ऋषिकेश पहुंच गया था. वहां पुलिस ने उसे लक्ष्मण झूला के पास चोरी के आरोप में पकड़ लिया था. पुलिस के अनुसार केदार भंडारी ने थाने से भागकर पुल से कूदकर गंगा में छलांग लगा दी थी.

वहीं केदार भंडारी के अभी तक ना मिलने से परिजनों में पुलिस के खिलाफ काफी आक्रोश है. इसे लेकर आज केदार के परिजनों के साथ कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष करण माहरा ने देहरादून के गांधी पार्क धरना दिया. उन्होंने पुलिस के खिलाफ लापरवाही का आरोप लगाते हुए डीजीपी को हटाने की मांग की है.

आपको बता दें कि केदार के परिजन पुलिसिया कार्रवाई से बिल्कुल संतुष्ट नहीं है. वहीं कांग्रेस इसके बड़ा मुद्दा बना कर सत्ताधारी सरकार पर हमलावर है.

सोशल ग्रुप्स में समाचार प्राप्त करने के लिए निम्न समूहों को ज्वाइन करे.