ऋषिकेश: चारधाम यात्रा पर अब खाद्य पदार्थों की मोबाइल लैब से की जाएगी जांच, मिलावट पाए जाने पर होगी कड़ी कार्रवाई

Advertisement

ऋषिकेश: खाद्य संरक्षा विभाग उत्तराखंड द्वारा चारधाम यात्रा पर आने वाले श्रद्धालुओं और स्थानीय नागरिकों को बेहतर स्वास्थ्य के लिए खाद्य पदार्थों की जांच की सुविधा उपलब्ध कराई गई है. इसके लिए विभाग की मोबाइल लैब बुधवार को ऋषिकेश पहुंची थी. इस दौरान नागरिकों को चारधाम यात्रा बस अड्डा परिसर में इस सुविधा का लाभ दिया गया.

मोबाइल लैब में कार्यरत खाद्य विश्लेषक ने मौके पर ही लगभग 60 खाद्य पदार्थों के नमूनों का परीक्षण सर्विलांस से किया. इनमें दूध एवं दुग्ध पदार्थों के 27 मसालों के 14 एवं अन्य खाद्य पदार्थों के कुल 19 सर्विलांस नमूने शामिल है.

जांच में पाई गई मिलावट

प्राथमिक जांच में दूध एवं दुग्ध पदार्थों के सभी नमूनें मानकों के अनुरुप सही पाए गए. लेकिन, मसानों एवं मिठाई के तीन-तीन नमूनों में स्टार्च एवं कृत्रिम रंगों की मिलावट पाई गई. इसके बाद संयुक्त टीम द्वारा मौके पर ही खाद्य कारोबारियों को खाद्य पदार्थों के निर्माण, विक्रय एवं संग्रह में सावधानी बरतने की हिदायत दी गई. इतना ही नहीं ऐसा नहीं होने पर उन्हें नियमानुसार कार्रवाई करने की बात भी कही गई.

बता दें कि चारधाम यात्रा मार्ग में खाद्य वस्तुओं की गुणवत्ता की जांच के लिए मोबाइल लैब संचालित की जा रही है. इसमें कोई भी खाद्य व्यापारी एवं उपभोक्ता दैनिक उपयोग की खाद्य वस्तुओं की गुणवत्ता की जांच विभाग की ओर से निर्धारित शुल्क 50 रुपये देकर करा सकता है.

इस जांच में यह पता चलेगा कि खाद्य वस्तुओं की गुणवत्ता खाद्य सुरक्षा मानक के अनुरुप है या नहीं. गुरुवार को जनपद टिहरी गढंवाल के यात्रा मार्ग पर यह मोबाइल लैब की सेवा उपलब्ध रहेगी. इस दौरान वरिष्ठ खाद्य सुरक्षा अधिकारी ऋषिकेश संजय तिवारी, देहरादून योगेद्र पांडे भी मौजूद रहे.

सोशल ग्रुप्स में समाचार प्राप्त करने के लिए निम्न समूहों को ज्वाइन करे.