अंकिता भंडारी हत्याकांड: मामले पर गरमाई उत्तराखंड सियासत, CBI जांच को लेकर विपक्ष ने लगाए ये गंभीर आरोप

Advertisement

देहरादून: उत्तराखंड में अब अंकिता हत्याकांड पर सियासत गरमाने लगी है. इस मामले की जांच को लेकर विपक्षी पार्टी लगातार राज्य सरकार पर आरोप लगा रही है. सत्र के दूसरे दिन यानी बुधवार को भी विपक्ष ने इस मामले में सीबीआई जांच अब तक न करवाए जानें पर सवाल उठाए. वहीं इन सवालों के जवाब में कैबिनेट मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल ने भी सफाई दी है.

दरअसल अंकिता हत्याकांड पर विपक्ष विगत कई वक्त से सीबीआई जांच की मांग कर रहा है. सत्र के दूसरे दिन भी विपक्षी पार्टी की ओर से यह मुद्दा उठाया गया. इसके जवाब में कैबिनेट मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल ने कहा कि यदि हाईकोर्ट सीबीआई जांच करने के निर्देश जारी करता है तो यह जांच जरूर होगी.

अंकिता हत्याकांड पर पूर्व नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह ने भाजपा पर गंभीर आरोप लगाए हैं. प्रीतम सिंह ने कहा कि अंकिता भंडारी केस में पूरी सरकार ही घेरे में है. इस वजह सरकार सीबीआई जांच से बचना चाहती है.

वहीं प्रेमचंद अग्रवाल ने प्रीतम सिंह की इस बात पर अपना पक्ष रखते हुए कहा है कि उनके द्वारा यह बात इसलिए कई गई थी, क्योंकि यह मामला इस वक्त न्यायालय में विचाराधीन है. इसके चलते सरकार वहीं कर सकती है. इसके आदेश न्यायालय द्वारा दिए जायेंगे.

सोशल ग्रुप्स में समाचार प्राप्त करने के लिए निम्न समूहों को ज्वाइन करे.